सुबह के नाश्ते के लिए स्वादिष्ट आलू के परांठे बनाने की रेसिपी

आलू का परांठा एक स्वादिष्ट, आसान और सर्व सुलभ व्यंजन है जो दुनिया के हर कोने में रहने वाले भारतीयों के बीच प्रसिद्ध  है| पंजाब और दिल्ली में लोग इसे मक्खन के साथ खाना पसंद करते है तो उत्तर प्रदेश और बिहार के लोग इसे चटनी या सॉस के साथ खाना पसंद करते है | कुछ लोग तो इसे चाय के साथ भी खाना पसंद करते है | ये एक ऐसा व्यंजन है जो अलग अलग चीजों के साथ खाया जा सकता है | तो पेश है आलू का परांठा बनाने की विधि

सामग्री

  • आलू : ५०० ग्राम
  • प्याज : २-३
  • मिर्च : ७-९ ( मिर्च की मात्रा तीखापन के अनुसार रखे )
  • लहसुन : १०-१२ दाने
  • घिसा हुआ अदरक : १ चम्मच
  • हल्दी पाउडर: १/२ चम्मच
  • जीरा (भुना और पीसा हुआ) : १ चम्मच
  • धनिया पाउडर : १ चम्म्च
  • नमक स्वादानुसार
  • आटा : ३०० ग्राम

विधि

  • आलू का परांठा बनाने के लिए सबसे पहले आलू को अच्छे से धोकर साफ कर लें और उसे उबाल  लें |

  • अच्छे से उबलने के बाद थोड़ा ठंडा होने पर आलू को निकाल लें और अच्छे से मसल लें |

  • अब प्याज, लहसुन मिर्च  काट ले |

  • एक कढ़ाई में ३-४ चम्मच तेल दाल कर कटे हुए प्याज, लहसुन, अदरक और मिर्च को  गोल्डेन ब्राउन होने तक भुने और उसमे हल्दी पाउडर, धनिया पाउडर, भुना और पीसा हुआ जीरा डाल कर ३-४ मिनट तक भुने |

  • इसमें मसला हुआ आलू, आजवाइन और नमक डाल दें मध्यम आंच पर भून कर निकाल लें, आपका स्टफ़िंग तैयार है |

  • एक बर्तन में आटा लेकर उसे मुलायम गूंथ लें और लोई बना लें|

  • अब एक लोई लेकर उसे कटोरी का शेप दें और उसमे थोड़ा स्टफींग भरें और उसका मुंह अच्छे से बंद कर के बेल लें|

  • अब तवा गर्म करें, उसपे परांठे को डाले और सेंक लें|

  • अब तेल या घी दोनो तरफ लगाए दोनों तरफ से गोल्डन ब्राउन होने तक सेंकने के बाद तवे से हटा दें|

तो लीजिये तैयार है आपका आलू का पराठा| अब इसे नाश्ते में खाइये या डिनर में, चाय के साथ खाइये या चटनी के साथ| हर तरह से ये आपकी भूख शांत करेगा और आपको संतुष्ट भी करेगा

आप खाइये, औरों को भी खिलाइये और हाँ इस आर्टिकल को ज्यादा लोगों तक पहुंचने में हमारी मदद करें| शेयर का लिंक और कमेंट नीचे है| कृपया शेयर करे और कमेंट करें |

यह आर्टिकल पीडीऍफ़ में डाउनलोड करें

Webtitle: How to make delicious aalu parantha for breakfast

1,155 total views, 3 views today

2 Comments

  1. नवीन तिवारी

    बेहतरीन तरीके से दृश्य दिखाया गया है।
    क्या हम इसमे दालचिनी भी मिला सकते हैं?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *